गौधाम ऋषिकुल, शिवालिक ऋषिकुल ब्रह्माश्चर्याश्रम के लिये

✊🚩

*आर्यावर्त के गुरुकुल के बाद ऋषिकुल में क्या पढ़ाई होती थी ये जान लेना आवश्यक है।*
🥦🥦🌹🥦🥦🌹🥦🥦

1. अग्नि विद्या
2 वायु विद्या
3 जल विद्या
4 अंतरिक्ष विद्या
5 पृथ्वी विद्या
6 सूर्य विद्या
7 चन्द्र व लोक विद्या
8 मेघ विद्या
9 पदार्थ विद्युत विद्या
10 सौर ऊर्जा विद्या
11 दिन रात्रि विद्या
12 सृष्टि विद्या
13 खगोल विद्या
14 भूगोल विद्या
15 काल विद्या
16 भूगर्भ विद्या
17 रत्न व धातु विद्या
18 आकर्षण विद्या
19 प्रकाश विद्या
20 तार विद्या
21 विमान विद्या
22 जलयान विद्या
23 अग्नेय अस्त्र विद्या
24 जीव जंतु विज्ञान विद्या
25 यज्ञ विद्या

*ये तो बात तो वैज्ञानिक विद्याओं की अब बात करते है…*
*व्यावसायिक और तकनीकी विद्या की….*

वाणिज्य
कृषि
पशुपालन
पक्षिपलन
पशु प्रशिक्षण
यान यन्त्रकार
रथकार
रतन्कार
सुवर्णकार
वस्त्रकार
कुम्भकार
लोहकार
तक्षक
रंगसाज
खटवाकर
रज्जुकर
वास्तुकार
पाकविद्या
सारथ्य
नदी प्रबन्धक
सुचिकार
गोशाला प्रबन्धक
उद्यान पाल
वन पाल
नापित

*यह सब विद्या गुरुकुल में सिखाई जाती थी पर समय के साथ गुरुकुल लुप्त हुए तो यह विद्या भी लुप्त होती गयी।*
*आज मैकाले पद्धति से हमारे देश के युवाओं का भविष्य नष्ट हो रहा तब ऐसे समय में गुरुकुल के पुनः उद्धार की आवश्यकता है।*🚩

*जय सनातन धर्म की*⛳🙏🙏*प्रो. एमेर्ट्स डॉ. अरुणेश्वर झा*🙏

🙏🏻🚩🇮🇳🔱🏹🐚🕉

Leave a Reply